Get Immediate Solution Now

Your Name (required)

Your Email (required)

Mobile No.

Your Message

अंक ज्योतिष के अनुसार कैसा रहेगा जीवन साथी

According to Numerology How's your relationship with life partner

जीवन का प्रत्येक पहलु महत्वपूर्ण है और जो इसे समझ लेता है वो जीवन इसका लाभ उठाता है।  अंक ज्योतिष का ज्ञान हमें जीवन की अनेक समस्याओं से उबारने में सहायक  होता है। जीवन का मूल मंत्र है प्यार, स्नेह, प्रेम आदि। यदि जीवन में इनका अभाव हो तो जीवन नर्क के  समान बन जाता है। जीवन रूपी गाड़ी के दो पहिए होते है एक पहिया पति और दूसरा पहिया पत्नि। जीवन की गाड़ी चलाने के लिए यह अतिआवश्‍यक है कि इन दोनों के बीच अच्छा तालमेल हो, दोनों ही एक दूसरे को समझने वाले हो, परिस्थिति के अनुरूप स्वयं को ढ़ालने वाले हो, कठिनाइयों के समय एक दूसरे को ढाढस व हौसला देने वाले हों। लेकिन ऐसे पति-पत्नि बहुत कम पाये जाते है। प्रायः देखा जाता है कि पति-पत्नि में बनती नही है, विवाह के पश्‍चात एक दो साल तक ही संबंध मधुर रहते है, उसके बाद तो रोज के झागड़े, विवाद चलते ही रहते है। क्या आपने सोचा है ऐसा क्यों होता है, इसका सीधा साकारण है कि उन दोनों की प्रवृति में समानता नही है यदि अग्नि पर पानी डाला जायेगा तो क्या होगा, अग्नि तो बुझेगी साथ ही पानी भी भांप बनने लगेगा। अर्थात लड़के के मूल अंक और लड़की के मूल अंक में मित्र भाव, समानता होना अति आवश्‍यक है। यदि इनके अंको में मित्र भाव की जगह शत्रु भाव हो तो जीवन नर्क समान हो जाता है, ना तो  इनके विचार ही कभी मिलते  और ना ही ये एक दूसरे के साथ  ही समझोता कर पाते है। धीरे-धीरे इनमें दूरिया बडती जाती है और इसकार परिणाम बहुत ही घातक होता है। अतः उत्तम है कि हमें अपने जीवन साथी का चुनाव करते समय अंक ज्योतिष की सहायता ले। और अंक के अनुरूप् ही अपने जीवनसाथी का चुनाव करें।

अंक-1

इस अंक वाले व्यक्ति को उन लोगों के साथ विवाह अथवा मैत्री संबंध स्थापित करना उत्तम रहता है जिनका जन्म 15 जुन से 14 जुलाई के बीच, 15 सितम्बर से 14 अक्टुबर के बीच, 15 नवम्बर से 14 दिसम्बर के  बीच, 15 मार्च से 14 अप्रेल के बीच, तथा 15 अप्रेल से 12 मई के बीच हुआ हो। इसके अतिरिक्त अंक 1 वाले उन लोगो के साथ भी संबंध स्थापित  कर सकते है जिनका मूल अंक 5, 7 या 9 आता हो। जिनका नाम का सक्षिप्त अंक 5, 7 या 9 आता हो। उनको भी आप चाहे तो अपना जीवन साथी बना सकते है। अंक ज्योतिष अनुसार उपरोक्तअंको वाले व्यक्तियों  के साथ आप अपना भाग्य बांधे अर्थात विवाह करे या मित्रता करे, साझेदारी करे तो आपके लिए अनुरूप  होगा।

अंक-2

इस अंक वाले व्यक्ति को उन लोगों के साथ विवाह अथवा मैत्री संबंध स्थापित करना चाहिए जिनका जन्म 15 मई  से 14 जुन के बीच, 15 अक्टूबर से 14 नवम्बर के बीच,तथा 15 फरवरी  से 14 मार्च के बीच हुआ हो। इसके अतिरिक्त अंक 2 वाले उन लोगो के साथ भी संबंध स्थापित  कर सकते है जिनका मूल अंक 4 तथा 6 आता हो। जिनके नाम का सक्षिप्त अंक 4 या 6 आता हो। उनको भी आप चाहे तो अपना जीवन साथी बना सकते है। अंक ज्योतिष अनुसार उपरोक्त अंको वाले व्यक्तियों  के साथ आप अपना भाग्य बांधे अर्थात विवाह करे या मित्रता करे, साझेदारी करे तो आपके लिए अनुरूप  होगा।

अंक-3

इस अंक वाले व्यक्ति को उन लोगों के साथ विवाह अथवा मैत्री संबंध स्थापित करना चाहिए जिनका जन्म 15 दिसम्बर से 14 जनवरी के बीच, 15 मार्च से 14 अप्रेल के बीच, 15 नवम्बर से 14 दिसम्बर के  बीच तथा 15 अप्रेल से 14 मई के बीच हुआ हो। इसके अतिरिक्त अंक 3 वाले उन लोगो के साथ भी संबंध स्थापित  कर सकते है जिनका मूल अंक 3, 7 तथा 9 आता हो। जिनका नाम का सक्षिप्त अंक 3, 7 या 9 आता हो। उनको भी आप चाहे तो अपना जीवन साथी बना सकते है। अंक ज्योतिष अनुसार उपरोक्त अंको वाले व्यक्तियों  के साथ आप अपना भाग्य बांधे अर्थात विवाह करे या मित्रता करे, साझेदारी करे तो आपके लिए अनुरूप  होगा।

अंक-4

इस अंक वाले व्यक्ति को उन लोगों के साथ विवाह अथवा मैत्री संबंध स्थापित करना उत्तम रहता है जिनका जन्म 15 जुलाई से 14 अगस्त के बीच, 15 मई से 14 जुन के बीच, तथा 15 नवम्बर  से 14 दिसम्बर के बीच हुआ हो। इसके अतिरिक्त अंक 4 वाले उन लोगो के साथ भी संबंध स्थापित  कर सकते है जिनका मूल अंक 2 या 6 आता हो। जिनका नाम का सक्षिप्त अंक 2 या 6 आता हो। उनको भी आप चाहे तो अपना जीवन साथी बना सकते है। अंक ज्योतिष अनुसार उपरोक्त अंको वाले व्यक्तियों  के साथ आप अपना भाग्य बांधे अर्थात विवाह करे या मित्रता करे, साझेदारी करे तो आपके लिए अनुरूप  होगा।

अंक-5

इस अंक वाले व्यक्ति को उन लोगों के साथ विवाह अथवा मैत्री संबंध स्थापित करना उत्तम रहता है जिनका जन्म 15 अगस्त से 14 सितम्बर के बीच, 15 मार्च से 14 अप्रेल के बीच, तथा 15 जनवरी  से 14 फरवरी के बीच हुआ हो। इसके अतिरिक्त अंक 5 वाले उन लोगो के साथ भी संबंध स्थापित  कर सकते है जिनका मूल अंक 1, 7 या 8 आता हो। जिनके नाम का सक्षिप्त अंक 1, 7 या 8 आता हो उनको भी आप चाहे तो अपना जीवन साथी बना सकते है। अंक ज्योतिष अनुसार उपरोक्त अंको वाले व्यक्तियों  के साथ आप अपना भाग्य बांधे अर्थात विवाह करे या मित्रता करे, साझेदारी करे तो आपके लिए अनुरूप  होगा। निःसंकोच आप इन्हे अपने जीवनसाथी के रूप में चुन सकते हैा

अंक-6

इस अंक वाले व्यक्ति को उन लोगों के साथ विवाह अथवा मैत्री संबंध स्थापित करना उत्तम रहता है जिनका जन्म 15 फरवरी  से 14 मार्च के बीच, 15 मई से 14 जुन के बीच, 15 अक्टुबर  से 14 नवम्बर के बीच, 15 अप्रेल  से 14 मई के बीच तथा 15 नवम्बर  से 14 दिसम्बर के बीच हुआ हो। इसके अतिरिक्त अंक 6 वाले उन लोगो के साथ भी संबंध स्थापित  कर सकते है जिनका मूल अंक 2, 4, 6 या 9 आता हो। जिनके नाम का सक्षिप्त अंक 2, 4, 6 या 9 आता हो उनको भी आप चाहे तो अपना जीवन साथी बना सकते है। अंक ज्योतिष अनुसार उपरोक्त अंको वाले व्यक्तियों  के साथ आप अपना भाग्य बांधे अर्थात विवाह करे या मित्रता करे, साझेदारी करे तो आपके लिए अनुरूप  होगा। निष्चय रूप से उपरोक्त अंको वाला जीवनसाथी आपके सफल दाम्पत्य जीवन का आधार बनेगा।

अंक-7

इस अंक वाले व्यक्ति को उन लोगों के साथ विवाह अथवा मैत्री संबंध स्थापित करना उत्तम रहता है जिनका जन्म 15 दिसम्बर  से 14 जनवरी के बीच, 15 जुन से 14 जुलाई के बीच, 15 सितम्बर से 14 अक्टूबर के बीच या 15 जनवरी  से 14 फरवरी के बीच हुआ हो। इसके अतिरिक्त अंक 7 वाले उन लोगो के साथ भी संबंध स्थापित  कर सकते है जिनका मूल अंक 3, 5, या 8 आता हो। जिनके नाम का सक्षिप्त अंक 3, 5, या 8 आता हो उनको भी आप चाहे तो अपना जीवन साथी बना सकते है। अंक ज्योतिष अनुसार उपरोक्त अंको वाले व्यक्तियों  के साथ  आपका वैवाहिक जीवन मधुर रहेगा। यह अंक आपके सुखी दाम्पत्य जीवन का आधार हो सकता है।

अंक-8

इस अंक वाले व्यक्ति को उन लोगों के साथ विवाह अथवा मैत्री संबंध स्थापित करना चाहिए जिनका जन्म 15 जुन  से 14 जुलाईी के बीच, 15 सितम्बर से 14 अक्टुबर के बीच, तथा 15 मार्च  से 14 अप्रेल के बीच हुआ हो। इसके अतिरिक्त अंक 8 वाले व्यक्ति उन लोगो के साथ भी संबंध स्थापित  कर सकते है जिनका मूल अंक 5 अथवा 7 आता हो। जिनके नाम का सक्षिप्त अंक 5 या 7 आता हो उनको भी आप चाहे तो अपना जीवन साथी बना सकते है। अंक ज्योतिष अनुसार उपरोक्त अंको वाले व्यक्तियों  के साथ  आपके संबंध मधुर बने रहेगें। और यह भविष्य में संबंध आपके लिए लाभदायी सिद्ध होगा। उपरोक्त अंक वालों को आप निःसंकोच अपना जीवन साथी बना सकते है।

अंक-9

इस अंक वाले व्यक्ति को उन लोगों के साथ विवाह संबंध अथवा मैत्री संबंध स्थापित करना उत्तम रहता है जिनका जन्म 15 दिसम्बर से 14 जनवरी के बीच, 15 मई से 14 जुन के बीच, तथा 15 अक्टुबर  से 14 नवम्बर के बीच  हुआ हो। इसके अतिरिक्त अंक 9 वाले उन लोगो के साथ भी संबंध स्थापित  कर सकते है जिनका मूल अंक 3 या 6 आता हो। जिनके नाम का सक्षिप्त अंक 3 या 6  आता हो उनको भी आप चाहे तो अपना जीवन साथी बना सकते है। अंक ज्योतिष अनुसार उपरोक्त  अंको वाले व्यक्तियों  के साथ आप अपना भाग्य बांधे अर्थात विवाह करे या मित्रता करे, साझेदारी करे तो आपके लिए अनुरूप  होगा। निःसंकोच आप इन्हे अपने जीवनसाथी के रूप में चुन सकते हैा

उपरोक्त अंक ज्योतिषीय विवेचन के आधार पर आप अपने भावी जीवनसाथी का चुनाव कर सकते है। निश्‍चय रूप  से अंक ज्योतिष की सहायता से आप अपने सही जीवन साथी का चुनाव कर, मधुर एवं सुखद दाम्पत्य जीवन पा सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

  • Get Immediate Solution Now

    Your Name (required)

    Your Email (required)

    Mobile No.

    Your Message

  • Facebook Profile

  • Solution for Any Problem