piscess

Pisces (मीन)

Monthly Horoscope

मीन- दी, दू, थ, झ, ज, दे, दो, चा, ची

राशि अनुसार दशा – इस समय आप 14 मार्च से 03 अप्रैल तक 20 दिन की सूर्य की दशा को भोग रहे है जो दुःखकारक समय हैं इसके पश्‍चात् 03 अप्रैल से 24 मई तक 50 दिन की चन्द्र की दशा रहेगी जो कि सुखकारक समय होगा।

1 से 15 अप्रेल – समाज के दृष्टिकोण में आपके प्रति बदलाव आयेगा, आप भी लोगों के हितों को ध्यान में रखते हुए कुछ महत्वपुर्ण कदम उठायेंगे । इस समय आपका रूझान अस्पतालों आश्रमों व आश्रितों की मदद करने की ओर होगा। आपका स्वास्थ्य होना आपकी बेहतर उत्पादक क्षमता में बहुत सहायक होगा। आप दिन रात काम करते हुए अपने प्रतिद्वन्द्वियों को पीछे छोड़ते हुए स्वयं पर गर्व अनुभव करेंगे । किसी पुराने विवाद को सुलझानें का उचित समय है और आप निष्चित ही इसमें सफल होंगे। कोर्ट कचहरी में समय व्यर्थ करना पड़ सकता है लेकिन इसका भी आपको सकारात्मक परिणाम ही प्राप्त होगा। आप अत्यधिक बुद्धिमान, कुषल, चतुर व उत्तम किस्म के व्यवसायी है इसका प्रदर्षन करते हुए आप अपनी समस्त समस्‍याओं से उभर जायेंगे।

16 से 30 अप्रैल – इस समय दिल के मामले से जुड़ी घटनायें आपके लिए काफी महत्वपूर्ण होगी । व्यक्तिगत तौर पर मिलनें वाला सहयोग आपको परेषान करेगा। आपको आत्‍मश्विाश्‍ की कमी महसूस होगी। आप भीषण उत्साह से काम करना चाहेंगे लेकिन मानसिक स्थितियां आपका साथ नहीं देगी। आप ये ना भूलें मन के हारे हार हैं, मन के जीते जीत अतः इस कहावत को अपने जीवन में चरितार्थ करें। यह आपको मजबूती व खूषी प्रदान करेगा। सामाजिक आयोजन व आमंत्रण आपके व्यक्तित्व व आकर्षण में निखार लायेगा। माना कि आप हरदम काम करते रहनें पर जोर देनें वाले है लेकिन कुछ समय मनोरंजन के लिए भी निकालना आवश्‍यक है आपके हिस्से में असली कड़ी मेहनत है। आपको महसूस होगा कि आपके पास एक पल की भी फूर्सत नहीं है।

इन्हें अपनाएँ कष्टों से निजात पाएं :

  1. प्रात:काल सूर्योदय के समय भगवान् सूर्य को अध्र्य देना चाहिए।
  2. माणिक्य, मू¡गा और पुखराज रत्न धारण करने चाहिए।
  3. सातमुखी, आठमुखी एवं नौमुखी रूद्राक्ष धारण करने चाहिए।
  4. ‘ॐ बृं बृहस्पतये नम:, ॐ शं शनै’चराय नम:, ॐ रां राहवे नम:, तथा  ‘ॐ कें केतवे नम:‘ मन्त्र का अधिकाधिक जप करना चाहिए।
  5. भगवान शिव एवं हनुमान जी की उपासना करनी चाहिए।
  6. पीपल के पेड़ पर नित्य जल चढ़नाा चाहिए तथा शानिवार को वहा¡ तेल का दीपक जलाना चाहिए।
  7. चींटियों का चुग्गा तथा कबूतरों को दाना डालना चाहिए।
  8. ध्यान एवं प्राणायाम का अभ्यास करें।

आपके लिए शुभ :-

  1.  शुभ ग्रह- सूर्य, मंगल एवं गुरू
  2. शुभ राशि- मेष, सिंह, वृश्चिक, धनु, मीन
  3. शुभ रंग- सफेद, मेहरून, पीला, गुलाबी
  4. शुभ वार- रविवार, मंगलवार, गुरूवार
  5. शुभ अंक- 1, 2, 3 एवं 9 अंक
  6. शुभ रत्न- मोती, मूंगा, पुखराज
  7. शुभ रूद्राक्ष- दोमुखी रूद्राक्ष, तीनमुखी रूद्राक्ष एवं पंचमुखी रूद्राक्ष
  8. शुभ देवता- शिव, कार्तिकेय, विष्णु
  9. शुभ व्रत- गुरूवार एवं एकादशी तिथि
  • Get Immediate Solution Now

    Your Name (required)

    Your Email (required)

    Mobile No.

    Your Message

  • Facebook Profile

  • Solution for Any Problem