taurus

Taurus (वृष)

Monthly Horoscope

वृष – ई, उ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो

राशि अनुसार दशा – इस समय आप 04 मार्च से 14 मई तक 70 दिन की शुक्र की दषा भोग रहे है जो कि सुखकारक समय होगा।

1 से 15 अप्रेल – इस समय काम में देरी व दोस्तों में रूकावट आपके स्वभाव में खींज उत्पन्न करेगी। सफर के दौरान थोड़ी सावधानी रखनें की आवश्‍यक्‍ता है। पिछले समय में कार्य की जो गति बनी है, उसमें आपको बे्रक लगते हुए महसूस होंगे स्वास्थ्य की देखभाल अच्छी तरह करनी होगी अन्यथा आपका स्वास्थ्य बिगड़ सकता है मुख्य बीमारी के साथ अन्य बीमारियां भी हो सकती है जो आपको काफी परेशान कर सकती है। व्यवसायिक स्तर पर आगे बढने की काफी दृढ इच्छा, आपको सही दांव खेलने, सही चुनाव करने में सक्षम बनायेगी। आपके अपने सहोदर, रिश्‍तेदार व करीबी लोग आने का प्रयत्न करेंगे। लेकिन आपका उपेक्षापूर्ण व्यवहार उनकी आशाओं पर पानी फेर देगा। आप सूचना प्रायोगिकी के प्रति जबरदस्त आर्कषण महसूस करेंगे।

16 से 30 अप्रेल – इस समय आपका ध्यान मकान, जमीन जायदाद और परिवार से जुडे़ मामलों पर केन्द्रित होगा। खरीद फरोख्त या घर, आफिस का नवीनीकरण या भवन निर्माण के लिए जगह का चुनाव व घर में कहीं दूर जाकर घर बनाना या इस योजना का खाका बनाने के लिए कुश्‍लतापूर्वक अच्छा खासा काम होगा। आप जिस किसी का भी कार्य करेंगे, उससे उच्चता और अंदाज का एक स्पर्ष होगा। जिन्दगी आपको पहले से भी ज्यादा उम्मीद भरी जान पड़ेगी। नयी योजनायें जल्दी ही ठोस शक्ल पायेगी, जो आपके कैरियर व व्यवसाय के सन्दर्भ में जबरदस्त वित्तिय बदलाव लानें की सम्भावना रखती है । आप योजना पर गहराई से विचार करे और बारिकियों पर गौर करें क्यों कि परिवार व जीवन पर इनका बहुत गहरा प्रभाव पड़ेगा।

इन्हें अपनाएँ कष्टों से निजात पाएं :

  1. हीरा, पन्ना एवं नीलम रत्न अथवा इनके उपरत्न धारण करने चाहिए।
  2. सातमुखी एवं आठमुखी रूद्राक्ष गले में धारण करने चाहिए।
  3. ‘ॐ शं शनै’चराय नम:’ तथा ‘ॐ रां राहवे नम:’ मन्त्र का अधिकाधिक जप करना चाहिए।
  4. मृत्युंजय मन्त्र ‘ॐ जूं स:’ का जप करना चाहिए।
  5. भगवान् शिव, पार्वती एवं हनुमान जी की उपासना करनी चाहिए।
  6. पीपल के पेड़ पर नित्य जल चढ़नाा चाहिए तथा शानिवार को वहा¡ तेल का दीपक जलाना चाहिए।
  7. घर में जब रोटियाँ बनें, तो अन्तिम रोटी कुत्ते के लिये बनानी चाहिए और उसे अपने हाथों से कुत्तो को खिलाना चाहिए।

आपके लिए शुभ :-

शुभ ग्रह- बुध, शुक्र, शनि

शुभ राशि- मिथुन, कन्या, मकर एवं कुम्भ

शुभ रंग- क्रीम, हरा, आसमानी, काला

शुभ वार- बुधवार, शुक्रवार एवं शनिवार

शुभ अंक- 5, 6, एवं 8 अंक

शुभ रत्न- हीरा, पन्ना एवं नीलम

शुभ रूद्राक्ष- चारमुखी, छहमुखी एवं सातमुखी

शुभ देवता- गणेश, माँ लक्ष्मी एवं हनुमान जी

शुभ व्रत- शुक्रवार एवं पंचमी तिथि

  • Get Immediate Solution Now

    Your Name (required)

    Your Email (required)

    Mobile No.

    Your Message

  • Facebook Profile

  • Solution for Any Problem