virgo

Virgo (कन्या)

Monthly Horoscope

कन्या- टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो

राशि के अनुसार दशा -इस समय आप 24 मार्च से 22 मई तक 58 दिन की गुरू की दषा भोग रहे है जो कि धनहानिकारक समय है।

1 से 15 अप्रैल – आप एक बार फिर अपने पारिवारिक सम्मेलन, घरेलू प्यार, नजदिकीयों को पानें के लिए उत्तेजित होंगे। आप फिर से लोगों की तरफ मुड़ेगे। खासकर उनकी ओर जिन्हे आप बेहद प्यार करते है । माता पिता व बड़े बुजुर्गों का साथ आपको प्रसन्नता प्रदान करेगा। आप उनमें समय व उर्जा की मांग करनें वाली विभिन्न फरमाइषों के बीच सामंजस्य स्थापित करने के की कोशिश्‍ करेंगे। आप अपने प्रियजनों, पत्नि, साझेदार, व बच्चों को प्रसन्न व संतुष्ट करने की हर सम्भव कोशिश्‍ करेंगे। आपको कुषलता के साथ साथ कूटनीति को भी अपनाते हुए समस्याओं का समाधान कर सकने का प्रयास लाभ देगा।

16 से 30 अप्रैल – आपके इर्द गिर्द एक खास किस्म की जीवन्तता फैली होगी। यहां तक कि आपके सम्बंधों में सुधार होगा गहराई आयेगी और ज्यादा प्रगाढ बनेंगे। नौकरशाही ढंग से फैसला सुनाने, लोगों के बारे में गलत विचार पेश करने से दूसरों से प्राप्त होनें वाले स्नेह को भी गंवा देने का खतरा मौजूद हो सकता है। निश्चित ही ये मित्रताओं में मजबूती लाने व दिल से जुड़ी बातो का समय होगा। मित्रता और रोमांस, प्यार के मामलो में भावनाएं महत्वपूर्ण होगी। आपको लम्बी यात्राएं करनी होगी और इतन आत्मविश्‍वाश के साथ करे मानो आपका काम पूरा हो गया हो । गति और उन्नति पर ज्यादा जोर होगा। साझेदारियां, साक्षात्कारों में सफलता, धार्मिक आयोजन व अनुष्ठानों में भागीदारी करने की संभावना है। यह विषय खुषी व आत्म सिद्धी का है।

 इन्हें अपनाएं कष्टों से निजात पाएं :

  1. पन्ना, नीलम एवं हीरा रत्न अथवा इनके उपरत्न धारण करने चाहिए।
  2. आठमुखी एवं नौमुखी रूद्राक्ष सोमवार अथवा किसी शुभमुहूर्त में गले में धारण करना चाहिए।
  3. ‘ॐ बं बृहस्पतये नम:’, ‘ॐ रां राहवे नम:’ तथा ‘ॐ कें केतवे नम:’ मन्त्र का अधिकाधिक जप करना चाहिए ।
  4. भगवान गणेश , शिव एवं दुर्गा जी की उपासना करनी चाहिए।
  1. बुधवार का व्रत करना चाहिए तथा उस दिन गणेश जी पर दूर्वा चढ़नाी चाहिए।
  2. आध्यात्मिक गुरू बनाए¡ और उनका अधिकाधिक आशीर्वाद प्राप्त करें।
  3. नित्य तुलसी एवं केले के वृक्ष पर जल चढ़ाए¡।
  4. नित्य चीटियों को चुग्गा एवं कुत्तो को रोटी खिलानी चाहिए।

आपके लिए शुभ :-

  1. शुभ ग्रह- बुध, शुक्र एवं शनि
  2. शुभ राशि- वृषभ, कन्या एवं मकर
  3. शुभ रंग- क्रीम, हरा, नीला, काला
  4. शुभ वार- बुधवार, शुक्रवार एवं शनिवा
  5. शुभ अंक- 1, 5 एवं 6 अंक
  6. शुभ रत्न- पन्ना, नीलम एवं हीरा
  7. शुभ रूद्राक्ष- चारमुखी रूद्राक्ष, छहमुखी रूद्राक्ष एवं सातमुखी रूद्राक्ष
  8. शुभ देवता- गणेश, विष्णु एवं हनुमान जी
  9. शुभ व्रत- बुधवार एवं चतुर्थी तिथि
  • Get Immediate Solution Now

    Your Name (required)

    Your Email (required)

    Mobile No.

    Your Message

  • Facebook Profile

  • Solution for Any Problem